फिल्म ‘सूबेदार जोगिन्दर सिंह’ का एक और गाना ‘हथियार’ हुआ रिलीज |

गाना 'हथियार'

परमवीर चक्र विजेता ‘सूबेदार जोगिन्दर सिंह’ के जीवन पर आधारित बायोपिक का एक और गाना ‘हथियार’ भी रिलीज कर दिया गया है, जो अब वायरल हो गया। इस गाने को सागा हिटस के यू-ट्यूब चैनल पर रिलीज किया है। गाना ‘हथियार’ के बारे में खुद गिप्पी गरेवाल  ने कहा कि ‘हथियार’ दर्शकों के दिलों को छू लेगा और हर भारतीय गौरवान्तिव महसूस करायेगी। इस गाने में कई ऐसे मौके आते हैं। जहां एक व्‍यक्ति उस सैनिक की भावनाओं से अवगत होता है, जो एक ऐसी यात्रा पर है, जहां से उसकी वापसी अनिश्चित है। फिर भी उसके दिमाग में दृढ़ निश्चय और अपने कर्तव्य ने उसे राष्ट्र के सम्‍मान के लिए लड़ने को  उस रास्‍ते पर चलने का जज्‍बा पैदा करता है।

उन्‍होंने कहा कि 6 अप्रैल को देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली बेहद महत्वाकंक्षी फिल्‍म ‘सूबेदार जोगिन्दर सिंह’  का ‘हथियार’ तीसरा गाना है, जिसकी शुरूआत सिखों के दसम ग्रंथ में गुरु गोविंद जी की बानी ‘देव शिवा बर मोहे इहे शुभ कर्मन ते काबू ना डरोन, ना देरां अर सियो जब जय लरौ निश्चय कर अपनी जीत करोन’ से होती है। इसका अर्थ होता है कि हे भगवान, मुझे यह वरदान प्रदान करें, मैं दुश्मनों के भय के बिना और दृढ़ संकल्प के साथ लड़ू और जीतूं। वैसे भी बहुत समय से सिखों ने अपनी पहचान शक्ति और बहादुरी  बनाया है। कम हम जानते हैं मगर  कम से कम हम योद्धाओं के सर्वोच्च बलिदानों को स्वीकार करते हैं जो देश के लिए अपना जीवन व्यतीत करते हैं।

सूबेदार जोगिंदर सिंह की बायोपिक सराहनीय, जिसे निर्माताओं ने इतिहास के विस्मृत अध्यायों में से निकाल कर पर्दे पर ला रहे हैं, जो प्रत्येक व्यक्ति के लिए सार्थक है। व्यावसायिक फिल्मों के युग में, यह फिल्म पंजाबी सिनेमा  दुनिया में एक ऐतिहास टर्नओवर के लिए जानी जायेगी। न केवल एक महान शैली बल्‍कि, एक सम्मोहक कहानी और एक उल्लेखनीय अवधारणा के बारे में यह फिल्म है। यह उस ईमानदारी के बारे में भी है, जिसके द्वारा इसे बनाया गया है और प्रामाणिकता जो एक भूले समय को फिर से तैयार करने के लिए बनाया गया है।

बता दें कि गिप्पी गरेवाल  और अदिति शर्मा स्‍टार फिल्‍म  सूबेदार जोगिन्दर सिंह के पहले दो गाने को भी खूब रेस्‍पांस मिला था। पहला गाना ‘गल दिल दी’ थी, जबकि दूसरा गाना न्‍यूयॉर्क में स्थित द टाइम्‍स स्‍क्‍वायर की रंग बिरंगी लाइटों वाली एक शाम में परमवीर चक्र विजेता सूबेदार जोगिंदर सिंह की बायोपिक का गाना ‘इश्‍क द तारा’ ने धूम मचा दी थी। पंजाबी सिनेमा के इतिहास की यह बार हुआ, जब किसी फिल्‍म के गाने को अन्तर्राष्ट्रीय मंच द टाइम्‍स स्‍क्‍वायर पर रिलीज किया गया था। यह देश की पहली ऐसी जीवनी हैं जो किसी परमवीर चक्र विजेता पर बनी है और पंजाबी के अलावा तीन भाषाओं – हिंदी, तमिल और तेलगु में सेवन कलर मोशन पिक्चर द्वारा निर्मित, सागा म्यूजिक और यूनीसिस इंफोसोल्यूशन के सहयोग से रिलीज़ होगी।

 

Related posts

Leave a Comment