दुश्मन न करे दोस्त ने जो काम किया है , उम्र भर का गम हमें इनाम दिया है जन्मदिन / स्मिता पाटिल (17 अक्टूबर )

स्मिता पाटिल
स्मिता पाटिल
स्मिता पाटिल

स्मिता पाटिल का जन्म 17 अक्टूबर, 1955 को पुणे, महाराष्ट्र में हुआ था। उनके पिता शिवाजीराव पाटिल महाराष्ट्र सरकार में मंत्री थे । स्मिता पाटिल ने ‘फ़िल्म एण्ड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ़ इंडिया’, पुणे से स्नातक की उपाधि प्राप्त करने के बाद दूरदर्शन मुंबई में बतौर मराठी समाचार वाचिका काम करना शुरू किया। श्याम बेनेगल ने अपनी फ़िल्म में स्मिता पाटिल को एक छोटी-सी भूमिका निभाने का पहला अवसर दिया। इसके बाद उनकी ‘निशांत’ ‘भूमिका’ और ‘मंथन’ जैसी सफल फ़िल्में प्रदर्शित हुई। फ़िल्म ‘भूमिका’ में अपने दमदार अभिनय के लिए उन्हें 1978 में ‘राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया। सत्यजीत रे के साथ प्रेमचंद की कहानी पर आधारित टेलिफ़िल्म ‘सदगति’ उनके द्वारा अभिनीत श्रेष्ठ फ़िल्मों में शुमार है। फ़िल्म ‘चक्र’ के लिए वह दूसरी बार ‘राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार’ से सम्मानित की गईं। अमिताभ बच्चन के साथ ‘नमक हलाल’ और ‘शक्ति’ जैसी फ़िल्मों ने स्मिता पाटिल को व्यावसायिक सिनेमा में भी स्थापित कर दिया और इसके बाद उनकी फिल्म घुँघरू,बाज़ार, वारिस , आखिर क्यूँ को भी काफी सराहना मिली । 1985 में स्मिता पाटिल की फ़िल्म ‘मिर्च-मसाला’ प्रदर्शित हुई। यह फ़िल्म सांमतवादी व्यवस्था के बीच पिसती औरत की संघर्ष की कहानी है। यह फ़िल्म आज भी स्मिता पाटिल के सशक्त अभिनय के लिए याद की जाती है। सरकार ने उन्हे ‘पद्मश्री’ से भी सम्मानित किया। स्मिता पाटिल ने मराठी, गुजराती, तेलुगू, बांग्ला, कन्नड़ और मलयालम फ़िल्मों में भी काम किया । स्मिता पाटिल का विवाह राज बब्बर से हुआ । पुत्र प्रतीक बब्बर हिन्दी फ़िल्मों में सक्रिय हैं जिनके जन्म के दो हफ्ते बाद 13.12.1986 को ही माँ स्मिता ने दुनिया को अलविदा कह दिया !
जन्मदिन पर स्मिता पाटिल को भावभीनी श्रद्धांजलि !

Related posts

One Thought to “दुश्मन न करे दोस्त ने जो काम किया है , उम्र भर का गम हमें इनाम दिया है जन्मदिन / स्मिता पाटिल (17 अक्टूबर )”

  1. Good to find an expert who knows what he’s tanlkig about!

Leave a Comment