चंद्रशेखर तिवारी से चंद्रशेखर आजाद बनने तक की कहानी |

धारावाहिक ‘चंद्रशेखर’

चंद्रशेखर तिवारी से चंद्रशेखर आजाद बनने तक की कहानी
निडरता का जश्न
स्टार भारत द्वारा 12 मार्च 2018, रात 10 बजे से धारावाहिक ‘चंद्रशेखर’
के शुभारंभ की घोषणा
स्टार भारत ने अपने नए शो ‘चंद्रशेखर’ की प्रस्तुति की घोषणा कर दी है।
इस छोटी काल्पनिक श्रृंखला में लगभग 110 एपिसोड्ज में स्वतंत्रता सेनानी ’चंद्रशेखर
आजाद’ की कहानी बयाँ की जाएगी। 12 मार्च रात 10 बजे से प्रसारित होने वाले इस शो
में एक साधारण युवा लड़के के चंद्रशेखर से एक विद्रोही क्रांतिकारी ‘आजाद’ बनने तक
की हर महत्वपूर्ण घटना को दिखाया जाएगा। एक ऐसा क्रांतिकारी जो, अपने अटल
विश्वास पर अडिग है। यह शो, स्टार भारत के बुनियादी कथन ‘भुला दे डर कुछ अलग
कर’ को दोहराता है और दर्शकों को अपने डर को जीतने के लिए प्रेरित करता है।
महादेव, सिया के राम और महाकुंभ जैसे धारावाहिकों के लिए प्रसिद्ध अनिरुद्ध पाठक द्वारा
निर्मित शो की कहानी आजादी से पहले की है। यह एक युवा की, बेपरवाह 8 साल के
बच्चे से ब्रिटिश सरकार के छक्के छुड़ा देने वाले क्रांतिकारी बनने तक की यात्रा है। यह
शो चंद्रशेखर को एक बहुआयामी व्यक्तित्व के रूप में पेश करता है, जिनका बुनियादी दर्शन
है, ‘डर, अर्थात् मरने से पहले ही कई बार मरना’। आजाद के जीवन से प्रेरित होकर
गैलेक्सी प्रोडक्शन ने उनकी खूबियों, चारित्रिक गुणों और उनके जीवन से संबंधित
दस्तावेजों के आधार पर उनके जीवन को परदे पर पेश किया है।

स्टार भारत के प्रवक्ता ने कहा, “हम ऐसी संकल्पना में विश्वास करते हैं, जो बदलाव के
लिए प्रेरित करती है। हमारे अन्य लोकप्रिय शोज की तरह ‘चंद्रशेखर’ भी परंपरागत
स्वतंत्रता संग्राम की गाथा के ढाँचे को तोड़ता है। इसके अलावा यह चंद्रशेखर आजाद के
जीवन की छोटी-छोटी बातों और उनके जीवन के ढेरों उतार-चढ़ाव को भी दर्शाता है,
जिनकी वजह से वे ऐसे बेखौफ क्रांतिकारी बने, जो कि डर से बिल्कुल अछूता था।
‘चंद्रशेखर’ स्टार भारत की ब्रांड फिलॉसॉफी ‘भुला दे डर कुछ अलग कर’ के लिए एकदम
सटीक है। हमें उम्मीद है कि हमारा शो, चंद्रशेखर आजाद की तरह हमारे दर्शकों को
अपने डर पर काबू पाने, अपनी मुश्किलों को जीतने और अपने लक्ष्य तक पहुँचने के लिए
प्रेरित करेगा।”
शो के लेखक-निर्माता अनिरुद्ध पाठक कहते हैं, “भारत के सबसे महान क्रांतिकारियों में से
एक चंद्रशेखर की यात्रा को पेश करना भी एक प्रेरणा है। यह दर्शाता है कि अगर हमारा
लक्ष्य सही है, तो हम उसे जरूर हासिल कर लेंगे जो हमने निर्धारित किया है। बहुत से
लोग नहीं जानते कि चंद्रशेखर एक दूरदराज गाँव से संबंध रखते थे। और अपने दृढ़
संकल्प और साहस की वजह से वे क्रांतिकारी सेना के कमांडर के रूप में जाने जाते थे।
यह माँ-बेटे के संबंधों की भी कहानी है, जहाँ माँ चंद्रशेखर के साहस और बहादुरी की
इकलौती प्रेरणास्रोत है। ‘चंद्रशेखर’ स्टार भारत की ब्रांड फिलॉसॉफी ‘भुला दे डर कुछ
अलग कर’ को दमदार तरीके से प्रतिध्वनित करता है।”
शो में प्रतिभाशाली अयान जुबैर रहमानी युवा चंदू की भूमिका निभाएँगे। स्नेहा वाघ
चन्द्रशेखर की प्रेरणादायी माँ जगरानी देवी और सत्यजीत शर्मा चंदू के पिता सीताराम
तिवारी की प्रमुख भूमिकाओं में होंगे।
‘चंद्रशेखर’ का प्रसारण 12 मार्च, 2018 से सोमवार से शनिवार रात 10 बजे स्टार भारत पर होगा

Related posts

Leave a Comment