सन्नी शाह द्वारा चौथे ‘डॉ एस. राधाकृष्णन मेमोरियल अवार्ड” का आयोजन

इंटरनेशनल ह्यूमन राईट्स काउंसिल के विशेष प्रोग्राम में 80 शिक्षकों को सम्मानित किया गया

इंटरनेशनल ह्यूमन राईट्स काउंसिल ने शिक्षक दिवस के अवसर पर मुम्बई के होटल जूहू प्लाज़ा में एक विशेष प्रोग्राम का आयोजन किया, जहां कई बॉलीवुड हस्तियों की शिरकत ने इस शाम को और भी यादगार बना दिया। इस मौके पर मीडिया कर्मियों की भी अच्छी खासी संख्या मौजूद थी.
टीचर्स और प्रिंसिपल के लिए यह अवार्ड शो रखा गया था जिसका नाम था “डॉ एस राधाकृष्णन मेमोरियल अवार्ड 2018”.
इंटरनेशनल ह्यूमन राईट्स काउंसिल के सन्नी शाह द्वारा आयोजित यह चौथा अवार्ड शो था. जिसमे शिक्षकों और शिक्षाविद को सम्मान से नवाजा गया.
इस मौके पर कई हस्तियां विशेष मेहमान के रूप में उपस्थित थीं, जिनमें आमिताभ बच्चन के पर्सनल मेकअप मैन और भोजपुरी फिल्म निर्माता दीपक सावंत, फिल्म यूनियन फेडरेशन के गंगेश्वर लाल श्रीवास्तव और बी. एन. तिवारी, दादा साहेब फाल्के फाउंडेशन के अशफाक खोपिकर, भोजपुरी अभिनेत्री संगीता तिवारी, फिल्म अभिनेत्री सगारिका, वाणी वशिष्ठ, अभिनेत्री-मॉडेल अर्चना गौतम, कॉमेडियन सुनील पॉल, कॉमेडियन दीपू श्रीवास्तव, मानव अधिकारों पर पीएचडी करने वाली महिला टीचर डॉ.किशोरी भगत, पत्रकार शामी एम् इरफ़ान, दबंग दुनिया के स्थानीय संपादक उन्मेष गुजराथी, डॉ. टी. एम्. ओमकार, अधिवक्ता साहिल शाह इत्यादि के नाम उल्लेखनीय है.
इंटरनेशनल ह्यूमन राईट्स काउंसिल के संस्थापक सन्नी शाह ने इस मौके पर टीचर्स और शिक्षा की अहमियत की बात सामने रखी. “टीचर्स डे मनाने का मुख्य उद्देश्य शिक्षा और गुरु की अहमियत को मानना है. इस दिन उन टीचर्स के कार्यों को याद किया जाता है जो शिक्षा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं. गुरु अंधेरे से रौशनी की तरफ ले कर जाते हैं. इंटरनेशनल ह्यूमन राईट्स काउंसिल ने टीचर्स डे को ध्यान में रखते हुए मुम्बई और देश भर से लगभग 80 शिक्षकों, प्रिंसिपलस और शिक्षा क्षेत्र से जुड़े लोगों को समाज में उनके विशेष योगदान के लिए सम्मानित किया.”
इस प्रोग्राम की खूबसूरत एंकरिंग की सौंदर्या गर्ग ने, जिन्होंने अपने बोलने के अंदाज़ और अपनी जादुई आवाज़ से सब का दिल जीत लिया. अंत में इंटरनेशनल ह्यूमन राईट्स काउंसिल के जनरल सेक्रेटरी रामा मेहरा ने सबका आभार व्यक्त किया.

Related posts

Leave a Comment